राकेश अचल

मनुष्य मूलतः सामंती मानसिकता की संरचना है। इसीलिए उसे हर वक्त हुक्म बजा लाने वाला कोई न कोई फरमाबरदार चाहिए। पहले ये भूमिका गरीब, आर्थिक, सामाजिक रूप से पिछड़े लोगों से निभवाई जाती थी, लेकिन अब जमाना बदल गया है। एक तरह से दास प्रथा समाप्त हो गई है। किंतु सामंती मानसिकता से मुक्ति अभी तक नहीं है। नतीजा इनसान ने फरमाबरदारी के लिए मशीन को इतना उन्नत बना लिया है कि वह बंधुआ मजदूर से ज्यादा बेहतर काम कर सके। इस हैरान कर देने वाली मशीन का नाम है ‘एलेक्सा’

दुनिया के संपन्न माने जाने वाले तमाम देशों के रहवासी बिना ‘एलेक्सा’ के अपने आप को अधूरा समझते हैं। मुमकिन है कि जो काम आपकी शरीके हयात और बच्चे तक न करें वो एलेक्सा चुपचाप कर ले। अलेक्सा आपका हर हुक्म मानने के लिए तत्पर रहती है। एलेक्सा युवती होकर भी आपकी पकड़ से बाहर है।

दरअसल एलेक्सा अमेज़न का डिजिटल वॉइस असिस्टेंट है। इसका उपयोग स्मार्टफोन और अमेज़न के इको प्रॉडक्‍ट्स पर किया जा सकता है। दुनिया में 50 करोड़ से ज्यादा लोग एलेक्सा से जुड़े हैं।

एलेक्सा को आप किसी भी नाम से पुकार सकते थे, लेकिन इस वॉइस कमांड को ‘एलेक्सा’ नाम देने के पीछे कुछ कारण हैं। सबसे पहले, ‘एलेक्सा’ नाम लाइब्रेरी ऑफ अलेक्जेंड्रिया से आया है, जिसने दुनिया के सभी नॉलेज को एकत्र करने का प्रयास किया। अमेज़न यही काम करने का प्रयास कर रहा है। एलेक्सा हमेशा सीख रहा है लेकिन, सिद्धांत रूप में, यह इनफॉर्मेशन का एक अखंड सोर्स होना चाहिए।

अमेरिका में मेरे घर में जितनी बार भगवान का नाम नहीं लिया जाता उससे ज्यादा बार एलेक्सा का नाम लिया जाता है। कभी-कभी तो एलेक्सा, एलेक्सा सुनकर कोफ्त होने लगती है। एलेक्सा अलार्म बजाने से लेकर आपके पसंदीदा गाने सुनाने तक और खाना पकाने की रैसिपी से लेकर मौसम के हाल तक, सब कुछ बता सकती है। आपके बताए व्यक्ति को फोन लगा सकती है, ऑनलाइन खाना आर्डर कर सकती है। टिकिट बुक करा सकती है।

अधिक व्यावहारिक रूप से, इस सर्विस को एलेक्‍सा नाम इसलिए भी दिया गया क्योंकि इसमें असामान्य ‘एक्स’ साउंड शामिल है। चूंकि यह सर्विस वॉइस-एक्टिवेटेड है, इसलिए अमेज़न एक ऐसा नाम चुनना चाहता था जो दूसरे शब्दों से भ्रमित न हो और जो डिवाइस को गलती से जाग्रत न कर सके।

अमेज़न ने बहुत सोच-समझकर फरमाबरदारी के लिए वॉइस-असिस्टेंट  के रूप में एक औरत की आवाज को चुना जो आपके साथ बातचीत के तरीके से बात करती है, जो आपको कई चीजों के साथ इंटरैक्‍ट करने में मदद करने के लिए तैयार रहती है।

आपकी एलेक्सा म्‍यूजि़क चलाने जैसे विभिन्न सरल कार्यों को कर सकती है, आप एलेक्सा के जरिए घर के स्मार्ट-होम गैजेट्स को भी  कंट्रोल कर सकते है। एलेक्सा आपके मौखिक आदेश पर घर की रोशनी मंद करने, दरवाजे को बंद करने, या उपकरणों के थर्मोस्टेट को एडजस्‍ट करने का काम भी कर सकती है।

दुनिया की 9 प्रमुख भाषाओं में काम करने वाली एलेक्सा की प्रतिद्वंद्वी एपल की सिरी और खुद गूगल भी है, लेकिन एलेक्सा को ज्यादा पसंद किया जाता है। एलेक्सा 72 फीसदी सही काम करती है, सिरी 75 प्रतिशत और गूगल 88 प्रतिशत, लेकिन एलेक्सा फिर भी ज्यादा मुंहलगी है। एलेक्सा आपके प्रश्नों पर झुंझलाती नहीं बल्कि विनोद करती है। मिसाल के तौर पर यदि आप एलेक्सा से अपनी मां का नाम पूछें तो वो कह सकती है कि -‘’अपनी मां से ही पूछ लीजिए।‘’

जैसे ही आप इसके सामने ‘एलेक्सा’  बोलते हैं, तो यह इसकी सर्विस की शुरुआत को ट्रिगर करता है। इसके बाद आप जो कह रहे हैं उसे समझने के लिए यह प्रयास शुरू कर देती है। दस साल की एलेक्सा दुनिया के 39 देशों में जनता की तकनीकी सहायक के रूप में लगातार लोकप्रिय है। लोगों की निर्भरता एलेक्सा पर बढती जा रही है।

आप अपनी एलेक्सा से कह सकते हैं कि, ‘’मुझे सुबह 7 बजे जगाओ”, या उससे “मुंबई से दिल्ली के लिए उड़ान के लिए पूछें” या “ द टेलीग्राफ से टॉप स्‍टोरीज के लिए पूछें” या “आज मेरे कैलेंडर में क्या है?” या “इंदौर में मौसम कैसा है?” या “मेरी यात्रा कैसी है?” या “मेरी पसंदीदा प्लेलिस्ट में फेरबदल करें।”

एलेक्सा, आपको बता सकती है कि कल बारिश होगी या नहीं? एलेक्सा, आपकी ऑडियोबुक पढ़कर सुना सकती है, खबरें बता सकती है। आप उससे उबर, ओला से सवारी का अनुरोध कर सकते हैं। घर की सभी लाइटें चालू और बंद करने के साथ ही मास्टर बेडरूम का तापमान सेट करवा सकते हैा। यदि आपके घर में बढ़िया वाई-फाई कनेक्शन और बेहतरीन एंड्रायड स्मार्टफोन है तो एलेक्सा को अपना बना लीजिए।
(मध्‍यमत)
डिस्‍क्‍लेमर- ये लेखक के निजी विचार हैं। लेख में दी गई किसी भी जानकारी की सत्यता, सटीकता व तथ्यात्मकता के लिए लेखक स्वयं जवाबदेह है। इसके लिए मध्यमत किसी भी तरह से उत्तरदायी नहीं है। यदि लेख पर आपके कोई विचार हों या आपको आपत्ति हो तो हमें जरूर लिखें।– संपादक