दिल्‍ली/ दिल्‍ली में एक युवती के लिव इन पार्टनर द्वारा एक लडकी की हत्‍या और उसके 35 टुकडे कर देने की दिल दहला देने वाली घटना के बाद जो जानकारियां सामने आ रही हैं वे सिर्फ खबर ही नहीं बल्कि युवा पीढी के लिए गंभीर चेतावनी हैं।

मुंबई से छतरपुर आए आफताब की लिव इन पार्टनर श्रद्धा ने उससे शादी करने की मांग की थी और संदिग्‍ध चरित्र वाले इस युवक ने इसी बात पर श्रद्धा की हत्‍या कर मीट काटने वाले चाकू से उसके 35 टुकड़े कर उन्‍हें दिल्‍ली के अलग अलग इलाकों में फेंका ताकि पकडा न जाए।  आफताब ने यह घटना अमेरिका के क्राइम शो ‘Dexter’ को देखकर यह खौफनाक प्लान बनाया था। यही नहीं उसने के शव को मार कर छिपाने के लिए बाकायदा 300 लीटर की क्षमता वाला फ्रिज खरीदा था।

आफताब आमीन पूनावाला ने इस कांड के लिए पूरी तैयारी की थी। शव के टुकड़े करने और उन्‍हें ठिकाने लगाने के दौरान होने वाली सड़न से बदबू न फैले इसके लिए वह काफी संख्‍या में अगरबत्ती जलाया करता था। आफताब को पुलिस ने शनिवार को गिरफ्तार किया किया है। उसे 5 दिन की हिरासत में भेजा गया है।

26 साल की श्रद्धा वालकर ने मातापिता के खिलाफ जाकर आफताब से रिलेशन जारी रखी थी। इस कारण उसकी घरवालों से बात भी नहीं होती थी। दोनों मुंबई से दिल्ली चले आए थे। फूड ब्लॉगर रहे आफताब से श्रद्धा की एक कॉल सेंटर में नौकरी के दौरान दोस्ती हुई थी। दिल्ली आकर भी श्रद्धा अकसर सोशल मीडिया पर अपडेट करती थी, जिससे परिजनों को उसकी खबर मिलती रहती थी। लेकिन 5 महीने से जब बेटी का कोई अपडेट नहीं मिला तो उसके पिता दिल्ली आए और पुलिस से संपर्क किया। श्रद्धा के पिता को अनहोनी की आशंका तब हुई, जब बेटी की एक सहेली ने बताया कि उसका फोन कई सप्ताह से स्विच ऑफ बता रहा है।

दरअसल यह पूरा मामला उन युवाओं के लिए एक गंभीर चेतावनी है जो कथित प्‍यार या रिलेशनशिप को अपनी आजादी का प्रतीक मानकर ऐसे अपराधियों के चंगुल में फंस जाते हैं। वे यह नहीं देख रहे कि वे जिसे अपना दोस्‍त या प्रेमी समझ रहे हैं उसकी असलियत क्‍या है और उसका इरादा क्‍या है? अपने हिसाब से जिंदगी जीने की चाह गलत नहीं है लेकिन साथ ही यह भी ध्‍यान रखा जाना चाहिए कि इस चाह के लिए हम क्‍या कीमत चुका रहे हैं या कि हमें क्‍या कीमत चुकानी पड सकती है।