भोपाल। ऊर्जा तथा खनिज साधन मंत्री राजेन्द्र शुक्ल ने कहा है कि मध्यप्रदेश में आयोजित हो रही इन्वेस्टर मीट के जरिये अब देश और विदेश के उद्योगपति यह मानने लगे हैं कि राज्य में औद्योगिक निवेश के लिये बेहतर संभावनाएँ और वातावरण उपलब्ध है। उन्होंने बताया कि फीडर सेपरेशन के सुचारु संचालन, संधारण तथा ट्रांसफार्मरों की संधारण की आवश्यकता को देखते हुए प्रदेश में करीब 25 वर्ष बाद 7,500 लाइन-मेन की भर्ती की जायेगी। श्री शुक्ल आज सतना जिले के मैहर में माँ शारदा आई.टी.आई. का शुभारंभ कर रहे थे। कार्यक्रम की अध्यक्षता विधायक श्री मोतीलाल तिवारी ने की।

श्री शुक्ल ने कहा राज्य के साथ ही सतना और मैहर में सबसे ज्यादा निवेश की संभावना है। उन्होंने कहा कि आई.टी.आई. की स्थापना उद्योग की तरह महत्वपूर्ण प्रासंगिक कदम है। ऊर्जा मंत्री ने कहा कि प्रदेश में लगने वाली औद्योगिक इकाइयों में 50 प्रतिशत से ऊपर स्थानीय युवकों को रोजगार देने की शर्त भी राज्य सरकार द्वारा लगाई जा रही है। उन्होंने कहा कि आई.टी.आई. और प्रशिक्षण संस्थान अपने यहाँ शिक्षित बेरोजगारों को तकनीकी रूप से प्रशिक्षित कर इन उद्योगों में रोजगार के अवसर बेहतर तरीके से उपलब्ध करा सकेंगे। प्रारंभ में श्री शुक्ल ने आई.टी.आई. के विभिन्न प्रकल्पों का अवलोकन भी किया।