भोपाल। वर्ष 2011-12 का राष्ट्रीय किशोर कुमार सम्मान प्रख्यात फिल्म पटकथा लेखक श्री सलीम खान को दिया जाएगा। मध्यप्रदेश शासन द्वारा स्थापित यह सम्मान निर्देशन, अभिनय, पटकथा लेखन तथा गीत लेखन के क्षेत्र में क्रमानुसार दिया जाता है।

संस्कृति मंत्री लक्ष्मीकांत शर्मा ने बताया है कि इस सम्मान की चयन समिति की पिछले दिनों मुम्बई में हुई बैठक में सर्वसम्मति से निर्णय लिया गया कि विगत चार दशकों से फिल्म पटकथा के क्षेत्र में अपनी उत्कृष्टता, दीर्घ साधना और निरंतर सक्रियता से फिल्मों में सम्मानजनक जगह बनाने वाले श्री सलीम खान को इस वर्ष यह सम्मान प्रदान किया जाये। चयन समिति में वरिष्ठ फिल्म पत्रकार एवं माधुरी के सम्पादक रहे श्री विनोद तिवारी, वरिष्ठ फिल्म प्रचारक श्री आर.आर. पाठक, फिल्म समालोचक श्री मनमोहन चड्ढा और फिल्म पत्रकार श्री श्रीराम ताम्रकर शामिल थे। इस सम्मान में दो लाख रुपये की आयकर मुक्त राशि और प्रशस्ति-पटि्टका प्रदान की जाती है।

वर्ष 2011-12 के लिए इस सम्मान से विभूषित होने वाले श्री सलीम खान की ख्याति हिन्दी सिनेमा में सितारा लेखक की रही है। उनका जन्म इंदौर में 24 नवम्बर 1935 को हुआ। वे अनेक सुपरहिट फिल्मों के पटकथा लेखन में मुख्य सूत्रधार और सहभागी रहे हैं। उनकी लिखी सफल फिल्मों में अन्दाज, हाथी मेरे साथी, सीता और गीता, यादों की बारात, जंजीर, मजबूर, दीवार, शोले, चाचा-भतीजा, डॉन, त्रिशूल, काला पत्थर, दोस्ताना, शान, क्रान्ति, शक्ति और जमाना शामिल हैं। इसके अलावा अस्सी के दशक में उन्होंने नाम, फलक, कब्जा, पत्थर के फूल, तूफान, जुर्म, अकेला, मझधार फिल्में लिखीं। श्री सलीम खान अभी अपने पुत्र और शीर्ष सितारे श्री सलमान खान की आने वाली फिल्म शेर खान के मुख्य पटकथाकार हैं, जिनके मार्गदर्शन में फिल्म की स्क्रिप्ट तैयार की जा रही है।

श्री सलीम खान को यह सम्मान खण्डवा में 13 अक्टूबर को एक गरिमामयी समारोह में प्रदान किया जायेगा।