भोपाल, नवंबर 2012/ राज्यपाल ने राजभवन में बाल दिवस के अवसर पर समारोह को सम्बोधित करते हुए कहा कि देश के प्रथम प्रधानमंत्री श्री जवाहरलाल नेहरू का देश के विकास और नव-निर्माण में बड़ा और महत्वपूर्ण योगदान है। समारोह का आयोजन मध्यप्रदेश बाल कल्याण परिषद् द्वारा किया गया था।

राज्यपाल ने कहा कि पंडित नेहरू बच्चों से बहुत प्यार करते थे। उनकी शेरवानी में गुलाब का फूल हमेशा लगा रहता था। पंडित नेहरू का कहना था कि वे अपने देश के बच्चों के चेहरे हर समय गुलाब के फूल की तरह मुस्कुराते हुए देखना चाहते हैं। श्री यादव ने बच्चों से आग्रह किया कि वे चाचा नेहरू के सपनों को साकार करने के लिए खूब मन लगाकर पढ़ें और देश का नाम रोशन करें। अपने आचरण में भारतीय संस्कृति के अनुरूप उच्च जीवन- मूल्यों और ईमानदारी, कर्मठता, निष्पक्षता और सच्चाई के संस्कारों को आत्मसात करें।

इस अवसर पर नन्हे-मुन्ने बच्चों ने देश भक्ति पर आधारित सांस्कृतिक कार्यक्रम प्रस्तुत किये। राज्यपाल ने कु. अलिबा खान को भावनात्मक भाषण के लिए दो हजार रूपये देकर पुरस्कृत किया। बच्चों को उपहार भी भेंट किये। बाल कल्याण परिषद के संयुक्त सचिव सोमेश दयाल शर्मा ने परिषद की गतिविधियों पर प्रकाश डाला।