इंदौर। मध्‍यप्रदेश में उद्योग क्षेत्र को बढ़ावा देने और इसमें निवेश को आमंत्रित करने की दृष्टिसे आयोजित ग्लोबल इन्वेस्टर्स समिट का विधिवत शुभारंभ हो गया । यह समिट 28 से 30 अक्टूबर तक चलेगी। समिट में देश-विदेश के उद्योग-व्यापार जगत के 2000 से ज्यादा प्रतिनिधि शामिल हो रहे हैं।

समिट के पहले दिन 28 अक्टूबर को मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान लाभगंगा गार्डन स्थित कार्यक्रम स्थल पर मध्यप्रदेश के विकास और संभावनाओं पर आधारित एक प्रदर्शनी का उद्घाटन किया। पहले दिन सूक्ष्म, लघु और मध्यम उद्योग सम्मेलन और कार्यशाला भी हुई। सम्मेलन में लघु उद्योग से संबंधित 5 पुस्तकों का विमोचन किया गया। सम्मेलन में मुख्यमंत्री और उद्योग संगठनों के प्रतिनिधियों ने अपने विचार व्यक्त करने के साथ ही प्रेरित प्रसंगों का आदान-प्रदान भी किया।

समिट के दूसरे दिन 29 अक्टूबर को देश-विदेश के उद्योगपति और निवेशक करारनामों पर दस्तखत करेंगे। लोकसभा में नेता प्रतिपक्ष श्रीमती सुषमा स्वराज विशेष उद्बोधन देंगी। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान भी कार्यक्रम को संबोधित करेंगे।

अपरान्ह में विभिन्न विषय पर सेक्टोरल सेमीनार होंगे। इनके विषयों में इंजीनियरिंग और ऑटोमोबाइल, नवीन और नवकरणीय ऊर्जा, स्वास्थ्य सेवाएँ एवं औषधि निर्माण उद्योग, कृषि व्यवसाय और खाद्य प्र-संस्करण, अधोसंरचना और शहरी विकास शामिल हैं। शाम को अटल बिहारी वाजपेयी रीजनल पार्क में सांस्कृतिक संध्या भी होगी।

समिट के अंतिम दिन 30 अक्टूबर को सूचना प्रौद्योगिकी तथा सूचना प्रौद्योगिकी आधारित सेवाएँ, तकनीकी शिक्षा और कौशल विकास, वेयरहाउसिंग एण्ड लॉजिस्टिक्स, टेक्सटाइल्स एण्ड ऐपरल्स और पर्यटन विषय पर सेक्टोरल सेमीनार होंगी। समापन कार्यक्रम को वरिष्ठ नेता लालकृष्ण आडवाणी, मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान, उद्योग मंत्री कैलाश विजयवर्गीय और अन्य अतिथि संबोधित करेंगे। समापन दिवस पर भी करारनामों पर दस्तखत किए जायेंगे।