शासकीय महाविद्यालयों में कार्यरत अतिथि विद्वानों की सेवाएँ 31 मई, 2012 तक जारी रहेंगी।

 

आयुक्त उच्च शिक्षा द्वारा महाविद्यालयों के प्राचार्य को इस संबंध में आदेश जारी किये गए हैं।